Author: admin

Delivery of Social Protection Entitlements in India

Unpacking Exclusion, Grievance Redress, and the Relevance of Citizen-Assistance Mechanisms Final Report submitted under Azim Premji University COVID-19 Research Funding Programme 2020 by Dvara Research, Gram Vaani, University of Montreal,…

लोग अपना पेट काटकर मिटा रहे हैं बच्‍चों की भूख, कहां गया 68% बच्‍चों के मिड-डे मील का पैसा?

कोविड संकट और लॉकडाउन ने हमारे समाज की उन बुनियादी आवाश्यकताओं की कमर तोड़ दी है, जिनके बारे में समाज का रईस तबका बात तक नहीं करता. जरूरत भी नहीं…

प्रधानमंत्री उज्जवला योजना: आज भी चूल्हे पर जल रहे हैं 43% प्रतिशत लाभार्थियों के हाथ

भारत में भी तक़रीबन 50 करोड़ लोग आज भी पारंपरिक चूल्हों पर खाना बनाते हैं. जो शहरी लोग गैस पर खाना पकाकर खाने के आदि हैं उनके लिए तो चूल्हे…

कोरोना से तो बचा लिया बाढ़ ने लील लिया जीवन- सरकारें वर्चुअल रैली में व्यस्त

एक तरफ तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामले और दूसरी तरफ आसमान से बरसती आफत... कुल मिलाकर उत्तरप्रदेश, बिहार, मध्यप्रदेश और कई पूर्वोत्तर राज्य बाढ़ की वजह से कराह…

भूखे पेट, खाली खाता, सूनी थाली! मिड डे मील का राशन और पैसा बना ‘आपदा में अवसर”

इंसान को जीने के लिए जो सबसे बुनियादी चीजें चाहिए उनमें से एक है भोजन. अच्छा पेटभर भोजन मिले तो बच्चा स्वस्थ रहे. तंदुस्ती के साथ आगे बढ़े, दिमागी रूप…

वोट बैंक नहीं हैं दिव्यांग, इसलिए सरकार ने भी मूंद ली हैं आंखें!

कोरोना संकट है, देश आपातकाल जैसी हालत में पहुंच रहा है... फिर हम ठांठस बांधे हुए हैं कि बस कुछ दिन और.. फिर सब ठीक हो जाएगा. लोग कोरोना के…

अगर मनरेगा ही एकमात्र सहारा है तो इसे मजबूत करना होगा!

साल 2015... संसद सत्र चल रहा था...  देश के तत्कालीन और वर्तमान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सदन को संबोधित करते हुए कहते हैं— मेरी राजनैतिक सूझबूझ कहती है, मनरेगा कभी बंद…