Category: Mobile Vaani discussions in Hindi

प्रधानमंत्री उज्जवला योजना: आज भी चूल्हे पर जल रहे हैं 43% प्रतिशत लाभार्थियों के हाथ

भारत में भी तक़रीबन 50 करोड़ लोग आज भी पारंपरिक चूल्हों पर खाना बनाते हैं. जो शहरी लोग गैस पर खाना पकाकर खाने के आदि हैं उनके लिए तो चूल्हे…

कोरोना से तो बचा लिया बाढ़ ने लील लिया जीवन- सरकारें वर्चुअल रैली में व्यस्त

एक तरफ तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामले और दूसरी तरफ आसमान से बरसती आफत... कुल मिलाकर उत्तरप्रदेश, बिहार, मध्यप्रदेश और कई पूर्वोत्तर राज्य बाढ़ की वजह से कराह…

भूखे पेट, खाली खाता, सूनी थाली! मिड डे मील का राशन और पैसा बना ‘आपदा में अवसर”

इंसान को जीने के लिए जो सबसे बुनियादी चीजें चाहिए उनमें से एक है भोजन. अच्छा पेटभर भोजन मिले तो बच्चा स्वस्थ रहे. तंदुस्ती के साथ आगे बढ़े, दिमागी रूप…

वोट बैंक नहीं हैं दिव्यांग, इसलिए सरकार ने भी मूंद ली हैं आंखें!

कोरोना संकट है, देश आपातकाल जैसी हालत में पहुंच रहा है... फिर हम ठांठस बांधे हुए हैं कि बस कुछ दिन और.. फिर सब ठीक हो जाएगा. लोग कोरोना के…

अगर मनरेगा ही एकमात्र सहारा है तो इसे मजबूत करना होगा!

साल 2015... संसद सत्र चल रहा था...  देश के तत्कालीन और वर्तमान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सदन को संबोधित करते हुए कहते हैं— मेरी राजनैतिक सूझबूझ कहती है, मनरेगा कभी बंद…

भारत के गांवों में कैसे सफल होगी ऑनलाइन शिक्षा

लॉकडाउन के ऐलान के साथ ही देश के लगभग 32 करोड़ छात्र-छात्राओं को स्कूल-कॉलेज जाने से रोक दिया गया था. सरकार ने ऐलान किया था कि स्कूल-कॉलेज उनके लिए ऑनलाइन…

एक छात्रा की पहल से मिला 40 गरीब परिवारों को मनरेगा में काम, पंचायत में लगने लगा नियमित रोज़गार दिवस

लेखक- दीपक कुमार- समस्तीपुर कोरोना महामारी और लॉक डाउन से आई आर्थिक मंदी ने लाखों कामगारों को घर वापस लौटने के लिए मजबूर किया, कुछ खुश किसमत मजदूरों को घर…

#lockdown: कोरोना का कहर: रोज़ाना कमाने वालों की रोजी, रोटी, सेहत सब संकट में!

कोरोना वायरस सम्पूर्ण विश्व या यूं कहें तो मानव जाती के खतरा बन गया है , हिंदुस्तान ही नहीं पूरा विश्व कोरोना के कहर से सदमें में हैं , चीन…

#lockdown: अनाज लेकर कहां जाएगा हमारा किसान?

कोरोना वायरस के कारण पूरा देश लॉकडाउन है. इसका असर सबसे ज्यादा गरीबों, मजदूरों और किसानों पर पड़ता दिख रहा है. फसल तैयार है, पैदावार भी किस्मत से इस बार…